Home Paryayvachi Shabd पर्यायवाची शब्द Synonyms in Hindi समानार्थी शब्द

Paryayvachi Shabd पर्यायवाची शब्द Synonyms in Hindi समानार्थी शब्द

  • by

Paryayvachi Shabd (पर्यायवाची शब्द) Synonyms in Hindi समानार्थी शब्द

Hindi में Paryayvachi Shabd –

____________________________________________

ये भी पढ़ें:

Complete Hindi Vyakaran व्याकरण :

Bhasha भाषा,    Varn वर्ण and Varnmala वर्णमाला,   Shabd शब्द,   Vakya वाक्य ,   Sangya संज्ञा

Sarvnam सर्वनाम,   Ling लिंग,   Vachan वचन ,   alankar अलंकार,   visheshan विशेषण ,

pratyay प्रत्यय ,  Kriya क्रिया ,    Sandhi संधि,  karak कारक,    kal काल kaal  Vilom Shabd विलोम शब्द 

Paryayvachi Shabd पर्यायवाची शब्द 

_____________________________________________

Hindi Paryayvachi Shabd

पर्याय का अर्थ है समान। पर्यायवाची शब्द का अर्थ है समान अर्थ वाले शब्द।

अतः समान अर्थ व्यक्त करने वाले शब्दों को पर्यायवाची शब्द  कहते हैं। इन्हें प्रतिशब्द या समानार्थक शब्द (Synonym words) भी कहा जाता है।

विभिन्न शब्दों के पर्यायवाची शब्द नीचे दिए गए है-

  • अग्नि — आग, अनल, पावक, वह्नि, ज्वाला, धनंजय, दहन, सर्वभक्षी, जातवेद, हुताशन, हव्यवान, ज्वलन, शिखा, ।
  • अकाल — सूखा, भुखमरी, कमी, ।
  • अंक – संख्या, गिनती, क्रमांक, निशान, चिह्न, छाप।
  • अंकुर – कोंपल, अँखुवा, कल्ला, नवोद्भिद्, कलिका, गाभा
  • अंकुश – प्रतिबन्ध, रोक, दबाव, रुकावट, नियन्त्रण।
  • अंग – अवयव, अंश, काया, हिस्सा, भाग, खण्ड, उपांश, घटक, टुकड़ा, तन, कलेवर, शरीर, देह।
  • अध्यापक — गुरु, आचार्य, शिक्षक, प्रवक्ता ।
  • अमृत — सुधा, पीयूष, अमिय, सोम, सुरभोग, जीवनोदक, अमी, मधु, दिव्य पदार्थ।
  • अनुपम — अनूप, अपूर्व, अतुल, अनोखा, अद्भुत, अनन्य, अद्वितीय, बेजोड़, बेमिसाल, अनूठा, निराला, अभूतपूर्व, विलक्षण।
  • असुर — दैत्य, दानव, राक्षस, निशाचर, रजनीचर, दनुज, रात्रिचर, जातुधान, तमीचर, मायावी, सुरारि, निश्चिर, मनुजाद।
  • अनाथ — यतीम, नाथहीन, बेसहारा, दीन, निराश्रित।
  • अपमान — अनादर, बेइज्जती, अवमानना, निरादर, तिरस्कार।
  • अभिजात — संभ्रान्त, कुलीन, श्रेष्ठ, योग्य।
  • अभिप्राय — आशय, तात्पर्य, मतलब, अर्थ, मंशा, व्याख्या, भाष्य, टीकापिप्पणी।
  • अरण्य — जंगल, अटवी, विपिन, कानन, वन, कान्तार, दावा, गहन, बीहड़, विटप।
  • अजेय — अदम्य, अपराजेय, अपराजित, अजित।
  • अन्य — पर, भिन्न, पृथक, और, दूसरा, अलग।
  • अनुचर — भृत्य, किँकर, दास, परिचारक, सेवक।
  • अनार — शुकप्रिय, रामबीज, दाड़िम।
  • अर्जुन — पार्थ, धनंजय, सव्यसाची, गाण्डीवधारी।
  • अक्षर — हरफ, ब्रह्म, अ आदि वर्ण, अविनाशी।
  • अनाज — अन्न, धान्य, खाद्यान्न, शस्य, गल्ला।
  • अतिथि – मेहमान, पहुना, अभ्यागत, रिश्तेदार, नातेदार, आगन्तुका.
  • अतीत – पूर्वकाल, भूतकाल, विगत, गत।
  • अनाड़ी – अनजान, अनभिज्ञ, अज्ञानी, अकुशल, अदक्ष, अपटु, मूर्ख, अल्पज्ञ, नौसिखिया।
  • अधिकार — हक, स्वामित्व, स्वत्व, कब्जा, आधिपत्य।
  • अनुमान — अंदाज, तखमीना, अटकल, कयास।
  • अनुमति — इजाजत, आज्ञा, अनुज्ञा, मंजूरी, स्वीकृति।
  • अप्सरा — देवांगना, सुरांगना, देवकन्या, सुखनिता, अरुणप्रिया।
  • अवनति — अपकर्ष, ह्रास, गिराव, उतार।
  • अशुद्ध — दूषित, अपवित्र, मलिन, गंदा, गलत।
  • अस्त — ओझल, गायब, छिपना, तिरोहित।
  • आँख — नेत्र, नयन, चक्षु, दृग, लोचन, अक्षि, नजर, दृष्टि, विलोचन।
  • आँसू — अश्रु, नयनजल, नेत्रनीर, नैत्रज, दृगजल, दृगम्बु।
  • आँधी — तूफान, चक्रवात, झंझावत, बवंडर।
  • आँगन — अंगना, प्रांगण, बाखर, बगर, अजिर, बाड़ा।
  • आकाश — नभ, अंबर, व्योम, गगन, अनंत, शून्य, तारापथ, अन्तरिक्ष, दुष्कर, आसमान, महानील, द्यौ, शून्यरव, दिव, अभ्र, सुखर्त्यन्, क्यित, विहायस, नाक, द्युस्।
  • आम — आम्र, रसाल, सहकार, अमृतफल, अम्बु, सौरभ, मादक।
  • अंधकार — तम, तिमिर, अँधेरा, अँधियारा, ध्वांत, तमिस्र, तमस।
  • अंधा — नेत्रहीन, चक्षुहीन, विवेकशून्य, दृष्टिहीन।

    Paryayvachi Shabd (पर्यायवाची शब्द) Synonyms in Hindi समानार्थी शब्द

    अहंकार — दर्प, दम्भ, अभिमान, घमण्ड, गर्व, मद।

  • अतिथि — मेहमान, पाहुना, आगंतुक, अभ्यागत, बटाऊ।
  • आनन्द — आमोद, प्रमोद, प्रसन्नता, हर्ष, उल्लास, आह्लाद, मोद, मुद, खुशी, मजा, सुख, चैन, विहार।
  • आन — प्रण, प्रतिज्ञा, हठ, शपथ, घोषणा, मर्यादा।
  • आभूषण — जेवर, गहना, भूषण, आभरण, मंडन, अलंकार।
  • आत्मा — चैतन्य, विभु, जीव, सर्वज्ञ, सर्वव्याप्त, देव, चेतनतत्त्व, अन्तःकरण।
  • आज्ञा — आदेश, निदेश, हुक्म।
  • आयु — उम्र, वय, अवस्था, जीवनकाल।
  • आदि — प्रथम, आरम्भिक, पहला, अथ।
  • आपत्ति — विपत्ति, आपदा, संकट, मुसीबत।
  • आश्रय — अवलंब, सहारा, आधार, प्रश्रय, आसरा।
  • आचरण — व्यवहार, चाल–चलन, बरताव।
  • आयुष्मान — चिरायु, दीर्घायु, चिरंजीव।
  • इन्द्र — महेन्द्र, देवराज, देवेश, सुरपति, शचिपति, वासव, पुरन्दर, सुरेन्द्र, सुरेश, देवेन्द्र, मघवा, शक्र, पुरहूत, देवपति, उर्वशीनाथ, सुनासीर, वज्री, वृत्रहा, नाकपति, सलस्राक्ष।
  • इच्छा — अभिलाषा, आकांक्षा, कामना, चाह, ईप्सा, मनोरथ, ईहा, स्पृहा, उत्कंठा, लालसा, वांछा, लिप्सा, काम, चाव।
  • ईश्वर — परमात्मा, प्रभु, ईश, जगदीश, भगवान, परमेश्वर, जगदीश्वर, विधाता, दीनबन्धु, जगन्नाथ, हरि, राम, विश्वम्भर।
  • ईर्ष्या — जलन, डाह, द्वेष, खार, रश्क, कुढ़न।
  • ईनाम — उपहार, पुरस्कार, पारितोषिक, बख्शीश।
  • ईमानदारी — सदाशयता, निष्कपटता, दयानतदारी।
  • Hindi में Paryayvachi Shabd –

    Hindi Paryayvachi Shabd

  • उपहास — मजाक, खिल्ली, परिहास, मखौल, हास, प्रहसन्न, हँसी, लास।
  • उपवन — बाग, बगीचा, उद्यान, वाटिका, फुलवारी, गुलशन।
  • उत्तम — श्रेष्ठ, उत्कृष्ट, प्रवर, प्रकृष्ट, बेहतरीन, अच्छा।
  • उत्थान — उत्कर्ष, आरोह, चढ़ाव, उत्क्रमण, उन्नति, प्रगति, उन्नयन।
  • उदाहरण — दृष्टांत, मिसाल, नजीर, नमूना।
  • उपकार — भलाई, नेकी, हितसाधन, कल्याण, मदद, परोपकार।
  • उत्सव — समारोह, पर्व, त्यौहार, जलसा, जश्न।
  • उदय — प्रकट होना, आरोहण, चढ़ना।
  • उदास — दुखी, रंजीदा, विरक्त, अनमना, अन्यमनस्क।
  • उद्देश्य — लक्ष्य, ध्येय, हेतु, प्रयोजन।
  • उद्यम — साहस, उद्योग, परिश्रम, व्यवसाय, धंधा, कार्य, व्यापार, कर्म, क्रिया।
  • उपमा — तुलना, मिलान, सादृश्य, समानता।
  • उदर — पेट, कुक्ष, जठर।
  • ऊँट — उष्ट्र, क्रमलेक, मरुयान, लम्बोष्ठ, महाग्रीव।
  • एकान्त — सूना, निर्जन, जनशून्य।
  • ऐश्वर्य — वैभव, सम्पन्नता, समृद्धि, प्रभुत्व, ठाठ–बाट।
  • ओझल — गायब, लुप्त, अदृश्य, अंतर्धान, तिरोभूत।
  • ओस — तुषार, हिमकण, शबनम, हिमबिँदु।
  • ओष्ठ — अधर, रदच्छद, लब, किनारा, होठ, ओँठ।
  • कमल — नलिन, अरविन्द, उत्पल, राजीव, पद्म, पंकज, नीरज, सरोज, जलज, जलजात, वारिज, शतदल, अम्बुज, पुण्डरिक, अब्ज, सरसिज, इंदीवर, ताम्ररस, कंज, वनज, अम्भोज, सहस्रदल, पुष्कर, कुवलय, पङ्करुह, सरसीरुह, कोकनद।
  • कल्पवृक्ष — देवदारु, सुरतरु, मन्दार, पारिजात, कल्पद्रुम, देववृक्ष, सुरद्रुम, कल्पतरु।
  • कबूतर — कपोत, हारीत, परेवा, पारावत, रक्तलोचन।
  • कर्ण — अंगराज, सूतपुत्र, सूर्यपुत्र, राधेय, कौन्तेय।
  • करुणा — दया, प्रसाद, अनुग्रह, अनुकंपा, कृपा, मेहरबानी।
  • कर्ज — ऋण, उधार, देनदारी, देयता।
  • कलंक — लांछन, दोष, दाग, तोहमत, धब्बा, कालिख पोतना।
  • कमर — कटि, श्रोणि, लंक, मध्यांग।
  • कलश — घट, घड़ा, गागर, गगरी, मटका, घटिका, कुंभ, कुट।
  • कपड़ा — वस्त्र, चीर, वसन, अंबर, पट, कर्पट, दुकूल, परिधान।
  • कष्ट — दुःख, दर्द, पीड़ा, मुसीबत, व्यथा, कठिनाई, व्याधि, कलेश, विषाद, संताप, वेदना, यातना, यंत्रणा, पीर, भीर, संकट, शोक, श्वेद, क्षोम, उत्पीड़न।
  • कामदेव — काम, अनंग, मदन, मनोज, मन्मथ, कन्दर्प, स्मर, रतिपति, पुष्पधन्वी, मयन, मीनकेतु, पंचशर, सारंग, दर्पक, शम्बरारि।
  • कान — कर्ण, श्रवण, श्रवणेन्द्रिय, श्रोत, श्रुतिपुट, श्रुतिपटल।
  • कान्ति — चमक, आभा, प्रभा, सुषमा, द्युति।
  • किरण — रश्मि, कर, मरीचि, मयूख, अंशु, दीधिति, वसु, ज्योति, दीप्ति।
  • किताब — पोथी, ग्रन्थ, पुस्तक, गुटका।
  • किनारा — तट, तीर, कूल, पुलिन, पर्यंत, बेलातट।
  • कुबेर — यक्षराज, धनाधिप, धनद, धनपति।
  • कुत्ता — श्वान, शुनक, गंडक, कूकर, श्वजन।
  • क्रूर — निष्ठुर, निर्मोही, बर्बर, नृशंस, निर्दयी।
  • कृष्ण — श्याम, कन्हैया, वासुदेव, मोहन, राधास्वामी, नंदलाल, मुरलीधर, बनवारी, माधव, मधुसूदन, गिरिधर, गोपाल, गोपीवल्लभ, विश्वंभर, नटवर, गिरधारी, नारायण, जनार्दन, पुरुषोत्तम, घनश्याम, चक्रपाणि, पद्मनाभ, राधापति, मुकुन्द, गोविन्द, केशव।
  • कृतज्ञ — आभारी, उपकृत, अनुगृहीत, कृतार्थ, ऋणी।
  • कृषक — किसान, हलवाहा, भूमिसुत, खेतिहर, कृषिजीवी, हलधर, अन्नदाता, भूमिपुत्र।
  • क्रोध — गुस्सा, रीस, अमर्ष, रोष, शेष, कोप, कोह, प्रतिघात।

    Hindi में Paryayvachi Shabd –

    Hindi Paryayvachi Shabd

  • खग – पक्षी, चिड़िया, पखेरू, द्विज, पंछी, विहंग, शकुनि।
  • खंड – अंश, भाग, हिस्सा, टुकड़ा।
  • खूबसूरत – सुन्दर, सुरम्य, मनोज्ञ, रूपवान, सौरम्य, रमणीक।
  • खून – रुधिर, लहू, रक्त, शोणित।
  • खम्भा – खम्भ, स्तूप, स्तम्भ।
  • खतरा – अंदेशा, भय, डर, आशंका।
  • खत – चिट्ठी, पत्र, पत्री, पाती।
  • गरुड़ – खगेश्वर, सुपर्ण, वैतनेय, नागान्तका
  • गौरव – मान, सम्मान, महत्त्व, बड़प्पन।
  • गम्भीर – गहरा, अथाह, अतला
  • गाँव – ग्राम, मौजा, पुरवा, बस्ती, देहात।
  • गृह – घर, सदन, भवन, धाम, निकेतन, आलय, मकान, गेह, शाला।
  • गुफा – गुहा, कन्दरा, विवर, गह्वर।
  • गीदड़ – शृगाल, सियार, जम्बुका
  • गुप्त – निभृत, अप्रकट, गूढ, अज्ञात, परोक्ष।
  • गति – हाल, दशा, अवस्था, स्थिति, चाल, रफ़्तार।
  • गंगा – भागीरथी, देवसरिता, मंदाकिनी, विष्णुपदी, त्रिपथगा, देवापगा, जाहनवी, देवनदी, ध्रुवनन्दा, सुरसरि, पापछालिका।
  • गणेश – लम्बोदर, मूषकवाहन, भवानीनन्दन, विनायक, गजानन, मोदकप्रिय, जगवन्द्य, हेरम्ब, एकदन्त, गजवदन, विघ्ननाशका
  • गज – हस्ती, सिंधुर, मातंग, कुम्भी, नाग, हाथी, वितुण्ड, कुंजर, करी, द्विपा
  • गधा – गदहा, खर, धूसर, गर्दभ, चक्रीवाहन, रासभ, लम्बकर्ण, बैशाखनन्दन, बेसर।
  • गाय – धेनु, सुरभि, माता, कल्याणी, पयस्विनी, गौ।
  • गुलाब – सुमना, शतपत्र, स्थलकमल, पाटल, वृन्तपुष्प
  • गुनाह – गलती, अधर्म, पाप, अपराध, खता, त्रुटि, कुकर्म।
  • घड़ा – कलश, घट, कुम्भ, गागर, निप, गगरी, कुट।
  • घी – घृत, हवि, अमृतसार।
  • घाटा – हानि, नुकसान, टोटा।
  • घन – जलधर, वारिद, अंबुधर, बादल, मेघ, अम्बुद, पयोद, नीरद।।
  • घृणा – जुगुप्सा, अरुचि, घिन, बीभत्स।
  • घुमक्कड़ – रमता, सैलानी, पर्यटक, घुमन्तू, विचरण शील, यायावर।
  • घिनौना – घृण्य, घृणास्पद, बीभत्स, गंदा, घृणित।
  • चंदन – मंगल्य, मलयज, श्रीखण्ड।
  • चाँदी – रजत, रूपा, रौप्य, रूपक
  • चरित्र – आचार, सदाचार, शील, आचरण
  • चिन्ता – फ़िक्र, सोच, ऊहापोह।
  • चौकीदार – आरक्षी, पहरेदार, प्रहरी, गारद, गश्तकार।
  • चोटी – शृंग, तुंग, शिखर, परकोटि।
  • चक्र – पहिया, चाक, चक्का।
  • चिकित्सा – उपचार, इलाज, दवादारू।
  • चतुर – कुशल, नागर, प्रवीण, दक्ष, निपुण, योग्य, होशियार, चालाक, सयाना, विज्ञा
  • चन्द्र – सोम, राकेश, रजनीश, राकापति, चाँद, निशाकर, हिमांशु, मयंक, सुधांशु, मृगांक, चन्द्रमा, कला–निधि, ओषधीश।
  • चाँदनी – चन्द्रिका, ज्योत्स्ना, कौमुदी, कुमुदकला, जुन्हाई, अमृतवर्षिणी, चन्द्रातप, चन्द्रमरीचि।
  • चपला – विद्युत्, बिजली, चंचला, दामिनी, तड़िता
  • चश्मा – ऐनक, उपनेत्र, सहनेत्र, उपनयन।
  • चाटुकारी – खुशामद, चापलूसी, मिथ्या प्रशंसा, चिरौरी, चमचागीरी।
  • चिह्न – प्रतीक, निशान, लक्षण, पहचान, संकेत।
  • चोर – रजनीचर, दस्यु, साहसिक, कभिज, खनक, मोषक, तस्कर।

    Hindi में Paryayvachi Shabd –

    Hindi Paryayvachi Shabd

  • छात्र – विद्यार्थी, शिक्षार्थी, शिष्य।
  • छाया – साया, प्रतिबिम्ब, परछाई, छाँव।
  • छल – प्रपंच, झाँसा, फ़रेब, कपट।
  • छटा – आभा, कांति, चमक, सौन्दर्य, सुन्दरता।
  • छानबीन – जाँच–पड़ताल, पूछताछ, जाँच, तहकीकात।
  • छेद – छिद्र, सूराख, रंध्रा
  • छली – ठग, छद्मी, कपटी, कैतव, धूर्त, मायावी।
  • छाती – उर, वक्ष, वक्षःस्थल, हृदय, मन, सीना।
  • जननी – माँ, माता, माई. मइया. अम्बा, अम्मा।
  • जीव – प्राणी, देहधारी, जीवधारी।
  • जिज्ञासा – उत्सुकता, उत्कंठा, कुतूहल।
  • जंग – युद्ध, रण, समर, लड़ाई, संग्राम।
  • जग – दुनिया, संसार, विश्व, भुवन, मृत्युलोक।
  • जल – सलिल, उदक, तोय, अम्बु, पानी, नीर, वारि, पय, अमृत, जीवक, रस, अप।
  • जहाज़ – जलयान, वायुयान, विमान, पोत, जलवाहन।
  • जानकी – जनकसुता, वैदेही, मैथिली, सीता, रामप्रिया, जनकदुलारी, जनकनन्दिनी।
  • जुटाना – बटोरना, संग्रह करना, जुगाड़ करना, एकत्र करना, जमा करना, संचय करना।
  • जोश – आवेश, साहस, उत्साह, उमंग, हौसला।
  • जीभ – जिह्वा, रसना, रसज्ञा, चंचला।
  • जमुना – सूर्यतनया, सूर्यसुता, कालिंदी, अर्कजा, कृष्णा।
  • ज्योति – प्रभा, प्रकाश, लौ, अग्निशिखा, आलोक
  • झंडा – ध्वजा, केतु, पताका, निसान।
  • झरना – सोता, स्रोत, उत्स, निर्झर, जलप्रपात, प्रस्रवण, प्रपात।
  • झुकाव – रुझान, प्रवृत्ति, प्रवणता, उन्मुखता।
  • झकोर – हवा का झोंका, झटका, झोंक, बयार।
  • झुठ – मिथ्या, मृषा, अनृत, असत, असत्य।
  • टीका – भाष्य, वृत्ति, विवृति, व्याख्या, भाषांतरण।
  • टक्कर – भिडंत, संघट्ट, समाघात, ठोकर।
  • टोल – समूह, मण्डली, जत्था, झुण्ड, चटसाल, पाठशाला।
  • टीस – साल, कसक, शूल, शूक्त, चसक, दर्द, पीड़ा।
  • टंच – सूम, कृपण, कंजूस, निष्ठुर।
  • ठंड – शीत, ठिठुरन, सर्दी, जाड़ा, ठंडक
  • ठेस – आघात, चोट, ठोकर, धक्का।
  • ठौर – ठिकाना, स्थल, जगह।
  • ठग – जालसाज, प्रवंचक, वंचक, प्रतारक।
  • ठाठ –आडम्बर, सजावट, वैभवा
  • ठिठोली – मज़ाक, उपहास, फ़बती, व्यंग्य, व्यंग्योक्ति।
  • ठगी – प्रतारणा, वंचना, मायाजाल, फ़रेब, जालसाज़।
  • डगर – बाट, मार्ग; राह, रास्ता, पथ, पंथा
  • डर – त्रास, भीति, दहशत, आतंक, भय, खौफ़
  • डेरा – पड़ाव, खेमा, शिविर
  • डोर – डोरी, रज्जु, तांत, रस्सी, पगहा, तन्तु।
  • डकैत – डाकू, लुटेरा, बटमार।
  • डायरी – दैनिकी, दैनन्दिनी, रोज़नामचा।
  • ढीठ – धृष्ट, प्रगल्भ, अविनीत, गुस्ताख।
  • ढोंग – स्वाँग, पाखण्ड, कपट, छल।
  • ढंग – पद्धति, विधि, तरीका, रीति, प्रणाली, करीना।
  • ढाढ़स – आश्वासन, तसल्ली, दिलासा, धीरज, सांत्वना।
  • ढोंगी – पाखण्डी, बगुला भगत, रंगासियार, कपटी, छली।
  • तन – शरीर, काया, जिस्म, देह, वपु।
  • तपस्या – साधना, तप, योग, अनुष्ठान।
  • तरंग – हिलोर, लहर, ऊर्मि, मौज, वीचि।
  • तरु – वृक्ष, पेड़, विटप, पादप, द्रुम, दरख्त।
  • तलवार – असि, खडग, सिरोही, चन्द्रहास, कृपाण, शमशीर, करवाल, करौली, तेग।
  • तम – अंधकार, ध्वान्त, तिमिर, अँधेरा, तमसा।
  • तरुणी – युवती, मनोज्ञा, सुंदरी, यौवनवक्षी, प्रमदा, रमणी।
  • तारा – नखत, उड्डगण, नक्षत्र, तारका
  • तम्बू – डेरा, खेमा, शिविर।
  • तस्वीर – चित्र, फोटो, प्रतिबिम्ब, प्रतिकृति, आकृति।
  • तालाब – जलाशय, सरोवर, ताल, सर, तड़ाग, जलधर, सरसी, पद्माकर, पुष्कर
  • तारीफ़ – बड़ाई, प्रशंसा, सराहना, प्रशस्ति, गुणगाना
  • तीर – नाराच, बाण, शिलीमुख, शर, सायक।
  • तोता – सुवा, शुक, दाडिमप्रिय, कीर, सुग्गा, रक्ततुंड।
  • तत्पर – तैयार, कटिबद्ध, उद्यत, सन्नद्ध।
  • तन्मय – मग्न, तल्लीन, लीन, ध्यानमग्न।
  • तालमेल – समन्वय, संगति, सामंजस्य।
  • तरकारी – शाक, सब्जी, भाजी।
  • तूफान – झंझावात, अंधड़, आँधी, प्रभंजना
  • त्रुटि – अशुद्धि, भूल–चूक, गलती।
  • थकान – क्लान्ति, श्रान्ति, थकावट, थकन।
  • थोड़ा – कम, ज़रा, अल्प, स्वल्प, न्यून।
  • थाह – अन्त, छोर, सिरा, सीना।
  • थोथा – पोला, खाली, खोखला, रिक्त, छूछा।
  • थल – धरती, ज़मीन, पृथ्वी, भूतल, भूमि।
  • दर्पण – शीशा, आइना, मुकुर, आरसी।
  • दास – चाकर, नौकर, सेवक, परिचारक, परिचर, किंकर, गुलाम, अनुचर।
  • दुःख – क्लेश, खेद, पीड़ा, यातना, विषाद, यन्त्रणा, क्षोभ, कष्ट
  • दूध – पय, दुग्ध, स्तन्य, क्षीर, अमृत।
  • देवता – सुर, आदित्य, अमर, देव, वसु।
  • दोस्त – सखा, मित्र, स्नेही, अन्तरंग, हितैषी, सहचर।
  • द्रोपदी – श्यामा, पाँचाली, कृष्णा, सैरन्ध्री, याज्ञसेनी, द्रुपदसुता, नित्ययौवना।
  • दासी – बाँदी, सेविका, किंकरी, परिचारिका।
  • दीपक – आदित्य, दीप, प्रदीप, दीया।
  • दुर्गा – सिंहवाहिनी, कालिका, अजा, भवानी, चण्डिका, कल्याणी, सुभद्रा, चामुण्डा।
  • दिव्य – अलौकिक, स्वर्गिक, लोकातीत, लोकोत्तर।
  • दीपावली – दीवाली, दीपमाला, दीपोत्सव, दीपमालिका।
  • दामिनी – बिजली, चपला, तड़ित, पीत–प्रभा, चंचला, विजय, विद्युत्, सौदामिनी।
  • देह – तन, रपु, शरीर, घट, काया, गात, कलेवर, तनु, मूर्ति।
  • दुर्लभ – अलम्भ, नायाब, विरल, दुष्प्राप्य।
  • दर्शन – भेंट, साक्षात्कार, मुलाकाता
  • दंगा – उपद्रव, फ़साद, उत्पात, उधम।।
  • द्वेष – बैर, शत्रुता, दुश्मनी, खार, ईर्ष्या, जलन, डाह, मात्सर्य।
  • दरवाज़ा – किवाड़, पल्ला, कपाट, द्वार।
  • दाई – धाया, धात्री, अम्मा, सेविका।
  • देवालय – देवमन्दिर, देवस्थान, मन्दिर।
  • दृढ़ – पुष्ट, मज़बूत, पक्का, तगड़ा।
  • दुर्गम – अगम्य, विकट, कठिन, दुस्तर।
  • द्विज – ब्राह्मण, ब्रह्मज्ञानी, वेदविद्, पण्डित, विप्रा
  • दिनांक – तारीख, तिथि, मिति।
  • धनुष – चाप, धनु, शरासन, पिनाक, कोदण्ड, कमान, विशिखासन।
  • धीरज – धीरता, धीरत्व, धैर्य, धारण, धृति।
  • धरती – धरा, धरणी, पृथ्वी, क्षिति, वसुधा, अवनी, मेदिनी।
  • धवल – श्वेत, सफ़ेद, उजला।
  • धुंध – कुहरा, नीहार, कुहासा।
  • ध्वस्त – नष्ट, भ्रष्ट, भग्न, खण्डित।
  • धूल – रज, खेहट, मिट्टी, गर्द, धूलिा
  • धंधा – दृढ़, अटल, स्थिर, निश्चित।

    Hindi में Paryayvachi Shabd –

    Hindi Paryayvachi Shabd

  • धनुर्धर – रोज़गार, व्यापार, कारोबार, व्यवसाय
  • धाक – धन्वी, तीरंदाज़, धनुषधारी, निषंगी।
  • धक्का – रोब, दबदबा, धौंस। टक्कर, रेला, झोंका।
  • नदी – सरिता, दरिया, अपगा, तटिनी, सलिला, स्रोतस्विनी, कल्लोलिनी, प्रवाहिणी।
  • नमक – लवण, लोन, रामरस, नोन।
  • नया – ‘नवीन, नव्य, नूतन, आधुनिक, अभिनव, अर्वाचीन, नव, ताज़ा।
  • नाश – (i) समाप्ति, अवसान (i) विनाश, संहार, ध्वंस, नष्ट–भ्रष्ट।
  • नित्य – हमेशा, रोज़, सनातन, सर्वदा, सदा, सदैव, चिरंतन, शाश्वत।
  • नियम – विधि, तरीका, विधान, ढंग, कानून, रीति।
  • नीलकमल – इंदीवर, नीलाम्बुज, नीलसरोज, उत्पल, असितकमल, कुवलय, सौगन्धित।
  • नौका – तरिणी, डोंगी, नाव, जलयान, नैया, तरी।
  • नारी – स्त्री, महिला, रमणी, वनिता, वामा, अबला, औरत।
  • निन्दा – अपयश, बदनामी, बुराई, बदगोई।
  • नैसर्गिक – प्राकृतिक, स्वाभाविक, वास्तविक
  • नरेश – नरेन्द्र, राजा, नरपति, भूपति, भूपाल
  • निष्पक्ष – उदासीन, अलग, निरपेक्ष, तटस्थ।
  • नियति – भाग्य, प्रारब्ध, विधि, भावी, दैव्य, होनी।
  • नक्षत्र – तारा, सितारा, खद्योत, तारक
  • नाग – सर्प, विषधर, भुजंग, व्याल, फणी, फणधर, उरग।
  • नग – भूधर, पहाड़, पर्वत, शैल, गिरि।
  • नरक – यमपुर, यमलोक, जहन्नुम, दौजख।
  • निधि – कोष, खज़ाना, भण्डार।
  • नग्न – नंगा, दिगम्बर, निर्वस्त्र, अनावृत।
  • नीरस – रसहीन, फीका, सूखा, स्वादहीन।
  • नीरव – मौन, चुप, शान्त, खामोश, निःशब्द।
  • निरर्थक – बेमानी, बेकार, अर्थहीन, व्यर्थी
  • निष्ठा – श्रद्धा, आस्था, विश्वास
  • निर्णय – निष्कर्ष, फ़ैसला, परिणाम।
  • निष्ठुर – निर्दय, निर्मम, बेदर्द, बेरहमा
  • पत्थर – पाहन, प्रस्तर, संग, अश्म, पाषाण।
  • पति – स्वामी, कान्त, भर्तार, बल्लभ, भर्ता, ईश।
  • पत्नी – दुलहिन, अर्धांगिनी, गृहिणी, त्रिया, दारा, जोरू, गृहलक्ष्मी, सहधर्मिणी, सहचरी, जाया।
  • पथिक – राही, बटाऊ, पंथी, मुसाफ़िर, बटोही।
  • पण्डित – विद्वान्, सुधी, ज्ञानी, धीर, कोविद, प्राज्ञा
  • परशुराम – भृगुसुत, जामदग्न्य, भार्गव, परशुधर, भृगुनन्दन, रेणुकातनय।
  • पर्वत – पहाड़, अचल, शैल, नग, भूधर, मेरू, महीधर, गिरि।
  • पवन – समीर, अनिल, मारुत, वात, पवमान, वायु, बयार।
  • पवित्र – पुनीत, पावन, शुद्ध, शुचि, साफ़, स्वच्छ
  • पार्वती – भवानी, अम्बिका, गौरी, अभया, गिरिजा, उमा, सती, शिवप्रिया।
  • पिता – जनक, बाप, तात, गुरु, फ़ादर, वालिद।
  • पुत्र – तनय, आत्मज, सुत, लड़का, बेटा, औरस, पूता
  • परिणय – शादी, विवाह, पाणिग्रहण।
  • पूज्य – आराध्य, अर्चनीय, उपास्य, वंद्य, वंदनीय, पूजनीय।
  • पुत्री – तनया, आत्मजा, सुता, लड़की, बेटी, दुहिता।
  • पृथ्वी – वसुधा, वसुन्धरा, मेदिनी, मही, भू, भूमि, इला, उर्वी, ज़मीन, क्षिति, धरती, धात्री।
  • प्रकाश – चमक, ज्योति, द्युति, दीप्ति, तेज़, आलोक।
  • प्रभात – सवेरा, सुबह, विहान, प्रातःकाल, भोर, ऊषाकाला
  • प्रथा – प्रचलन, चलन, रीति–रिवाज़, परम्परा, परिपाटी, रूढ़ि।
  • प्रलय – कयामत, विप्लव, कल्पान्त, गज़ब
  • प्रसिद्ध – मशहूर, नामी, ख्यात, नामवर, विख्यात, प्रख्यात, यशस्वी, मकबूला
  • प्रार्थना – विनय, विनती, निवेदन, अनुरोध, स्तुति, अभ्यर्थना, अर्चना, अनुनय।
  • प्रिया – प्रियतमा, प्रेयसी, सजनी, दिलरुबा, प्यारी।
  • प्रेम – प्रीति, स्नेह, दुलार, लाड़–प्यार, ममता, अनुराग, प्रणय।
  • पैर – पाँव, पाद, चरण, गोड़, पग, पद, पगु, टाँग
  • प्रभा – छवि, दीप्ति, द्युति, आभा।
  • पंथ – राह, डगर, पथ, मार्ग।
  • परतन्त्र – पराधीन, परवश, पराश्रित।
  • परिवार – कुल, घराना, कुटुम्ब, कुनबा।
  • परछाई – प्रतिच्छाया, साया, प्रतिबिम्ब, छाया, छवि।
  • पक्षी – विहग, निहंग, खग, अण्डज़, शकुन्त।
  • पल – क्षण, लम्हा, दमा
  • पश्चात्ताप – अनुताप, पछतावा, ग्लानि, संताप।
  • पाश – जालबंधन, फंदा, बंधन, जकड़न।
  • पराग – रंज, पुष्परज, कुसुमरज, पुष्पधूलि।
  • परिवर्तन – क्रांति, हेर–फेर, बदलाव, तब्दीली।
  • पड़ोसी – हमसाया, प्रतिवासी, प्रतिवेशी।
  • पुरातन – प्राचीन, पूर्वकालीन, पुराना।
  • पूजा – आराधना, अर्चना, उपासना।
  • प्रकांड – अतिशय, विपुल, अधिक, भारी।।
  • प्रज्ञा – बुद्धि, ज्ञान, मेधा, प्रतिभा।
  • प्रचण्ड – भीषण, उग्र, भयंकर।
  • प्रणय – स्नेह, अनुराग, प्रीति, अनुरक्ति।
  • प्रताप – प्रभाव, धाक, बोलबाला, इकबाल।
  • प्रतिज्ञा – प्रण, वचन, वायदा।
  • प्रेक्षागार – नाट्यशाला, रंगशाला, अभिनयशाला, प्रेक्षागृह।
  • पल्लव – किसलय, घर्ण, पत्ती, पात, कोपल, फुनगी।
  • पांडुलिपि – हस्तलिपी, मसौदा, पांडुलेख।
  • फणी – सर्प, साँप, फणधर, नाग, उरग।
  • फ़ौरन – तत्काल, तत्क्षण, तुरन्ता
  • फूल – सुमन, कुसुम, गुल, प्रसून, पुष्प, पुहुप, मंजरी, लतांता
  • फौज़ – सेना, लश्कर, पल्टन, वाहिनी, सैन्य।
  • फणीन्द्र – शेषनाग, वासुकी, उरगाधिपति, सर्पराज, नागराज।
  • बलराम – हलधर, बलवीर, रेवतीरमण, बलभद्र, हली, श्यामबन्धु।
  • बाग – उपवन, वाटिका, उद्यान, निकुंज, फुलवाड़ी, बगीचा।
  • बन्दर – कपि, वानर, मर्कट, शाखामृग, कीश।
  • बट्टा – घाटा, हानि, टोटा, नुकसान।
  • बलिदान – कुर्बानी, आत्मोत्सर्ग, जीवनदान।
  • बंजर – ऊसर, परती, अनुपजाऊ, अनुर्वर।
  • बिछोह – वियोग, जुदाई, बिछोड़ा, विप्रलंभ।
  • बियावान – निर्जन, सूनसान, वीरान, उजाड़।
  • बंक – टेढ़ा, तिर्यक्, तिरछा, वक्र
  • बहुत – ज़्यादा, प्रचुर, प्रभूत, विपुल, इफ़रात, अधिक।
  • बुद्धि – प्रज्ञा, मेधा, ज़ेहन, समझ, अकल, गति।
  • ब्रह्मा – विधि, चतुरानन, कमलासन, विधाता, विरंचि, पितामह, अज, प्रजापति, स्वयंभू।
  • बादल – मेघ, पयोधर, नीरद, वारिद, अम्बुद, बलाहक, जलधर, घन, जीमूत।
  • बाल – केश, अलक, कुन्तल, रोम, शिरोरूह, चिकुर।
  • बिजली – तड़ित, दामिनी, विद्युत, सौदामिनी, चंचला, बीजुरी।
  • बसंत – ऋतुराज, ऋतुपति, मधुमास, कुसुमाकर, माधव।
  • बाण – तीर, तोमर, विशिख, शिलीमुख, नाराच, शर, इषु।
  • बारिश – पावस, वृष्टि, वर्षा, बरसात, मेह, बरखा।
  • बालिका – बाला, कन्या, बच्ची, लड़की, किशोरी।
  • भगवान – परमेश्वर, परमात्मा, सर्वेश्वर, प्रभु, ईश्वर।
  • भगिनी – दीदी, जीजी, बहिन
  • भारती – सरस्वती, ब्राह्मी, विद्या देवी, शारदा, वीणावादिनी।
  • भाल – ललाट, मस्तक, माथा, कपाल।
  • भरोसा – सहारा, अवलम्ब, आश्रय, प्रश्रय।
  • भास्कर – चमकीला, आभामय, दीप्तिमान, प्रकाशवान।
  • भुगतान – भरपाई, अदायगी, बेबाकी।
  • भोला – सीधा, सरल, निष्कपट, निश्छल।
  • भूखा – बुभुक्षित, क्षुधातुर, क्षुधालु, क्षुधात।
  • भँवरा – भ्रमर, ग, मधुकर, मधुप, अलि, द्विरेफ।
  • भाई – अग्रज, अनुज, सहोदर, तात, भइया, बन्धु।
  • भाँड – विदूषक, मसखरा, जोकर।
  • भिक्षुक – भिखमंगा, भिखारी, याचक
  • मछली – मीन, मत्स्य, सफरी, झष, जलजीवन।
  • मज़ाक – दिल्लगी, उपहास, हँसी, मखौल, मसखरी, व्यंग्य, छींटाकशी।
  • मदिरा – शराब, हाला, आसव, मद्य, सुरा।
  • महादेव – शंकर, शंभू, शिव, पशुपति, चन्द्रशेखर, महेश्वर, भूतेश, आशुतोष, गिरीश
  • मक्खन – नवनीत, दधिसार, माखन, लौनी।
  • मंगनी – वाग्दान, फलदान, सगाई।
  • मनीषी – पण्डित, विचारक, ज्ञानी, विद्वान्।
  • मुँह – मुख, आनन, बदन।
  • मित्र – सखा, दोस्त, सहचर, सुहृद।
  • माँ – मातु, माता, मातृ, मातरि, मैया, महतारी, अम्ब, जननी, जनयित्री, जन्मदात्री।
  • मेघ – धराधर, घन, जलचर, वारिद, जीमूत, बादल, नीरद, पयोधर, जगलीवन, अम्बुद।
  • मैना – सारिका, चित्रलोचना, कलहप्रिया।
  • मंथन – बिलोना, विलोड़न, आलोड़न।
  • महक – परिमल, वास, सुवास, खुशबू, सुगंध, सौरभ।
  • मृत्यु – देहावसान, देहान्त, पंचतत्वलीन, निधन, मौत, इंतकाल।
  • माँझी – मल्लाह, नाविक, केवट।
  • माया – छल, छलना, प्रपंच, प्रतारणा।
  • माधुरी – माधुर्य, मिठास, मधुरता।
  • मानव – मनुज, मनुष्य, मानुष, नर, इंसान।
  • मोती – सीपिज, मौक्तिक, मुक्ता, शशिप्रभा।
  • मेंदकं – दादुर, दर्दुर, मण्डूक, वर्षाप्रिय, भेका
  • मोर – मयूर, नीलकण्ठ, शिखी, केकी, कलापी।
  • मोक्ष – मुक्ति, निर्वाण, कैवल्य, परमधाम, परमपद, अपवर्ग, सदगति।
  • मंदिर – देवालय, देवस्थान, देवगृह, ईशगृह।
  • मधु – शहद, बसंत–ऋत. भसमासव, मकरंद, पुष्पासव।
  • यम – सूर्यपुत्र, धर्मराज, श्राद्धदेव, कीनाश, शमन, दण्डधर, यमुनाभ्राता।
  • यत्न – प्रयत्न, चेष्टा, उद्यम
  • यामिनी – निशा, रजनी, राका, विभावरी।
  • योग्य – कुशल, सक्षम, कार्यक्षम, काबिला
  • यात्रा – भ्रमण, देशाटन, पर्यटन, सफ़र, घूमना।
  • याद – सुधि, स्मृति, ख्याल, स्मरण।
  • यंत्र – औज़ार, कल, मशीन।
  • यती – संन्यासी, वीतरागी, वैरागी।
  • युद्ध – रण, जंग, समर, लड़ाई, संग्राम।
  • याचिका – आवेदन–पत्र, अभ्यर्थना, प्रार्थना पत्र।
  • रक्त – खून, लहू, रुधिर, शोणित, लोहित, रोहित।
  • राधा – ब्रजरानी, हरिप्रिया, राधिका, वृषभानुजा।
  • रानी – राज्ञी, महिषी, राजपत्नी।
  • रावण – लंकेश, दशानन, दशकंठ, दशकंधर, लंकाधिपति, दैत्येन्द्र।
  • राज्यपाल – प्रान्तपति, सूबेदार, गवर्नर।
  • राय – मत, सलाह, सम्मति, मंत्रणा, परामर्श
  • रूढ़ि – प्रथा, दस्तूर, रस्म।
  • रक्षा – बचाव, संरक्षण, हिफ़ाजत, देखरेख।
  • रमा – कमला, इन्दिरा, लक्ष्मी, हरिप्रिया, समुद्रजा, चंचला, क्षीरोदतनया, पद्मा, श्री, भार्गवी।
  • रसना – जीभ, जबान, रसेन्द्रिय, जिह्वा, रसीका।
  • रविवार – इतवार, आदित्य–वार, सूर्यवार, रविवासर।
  • राजा – नरेन्द्र, नरेश, नृप, भूपाल, राव, भूप, महीप, नरपति, सम्राट।
  • रामचन्द्र – रघुवर, रघुनाथ, सीतापति, कौशल्यानन्दन, अमिताभ, राघव, रघुराज, अवधेश
  • रात – रैन, रजनी, निशा, विभावरी, यामिनी, तमी, तमस्विनी, शर्वरी, विभा, क्षपा, रात्रि
  • रिपु – बैरी, दुश्मन, विपक्षी, विरोधी, प्रतिवादी, अमित्र, शत्रु।
  • रोना – विलाप, रोदन, रुदन, क्रंदन, विलपन।
  • लक्ष्मण – अनंत, लखन, सौमित्र।
  • लग्न – संलग्न, सम्बद्ध, संयुक्ता
  • लज्जा – शर्म, हया, लाज, व्रीडा।
  • लहर – लहरी, हिलोर, तरंग, उर्मि।
  • लालसा – तृष्णा, अभिलाषा, लिप्सा, लालच।
  • लगातार – सतत, निरन्तर, अजस्र, अनवरत।
  • लता – बेल, वल्लरी, लतिका, प्रतान, वीरुध।
  • लघु – थोड़ा, न्यून, हल्का, छोटा।
  • लक्ष्मी – श्री, कमला, रमा, पद्मा, हरिप्रिया, क्षीरोद, इन्दिरा, समुद्रजा।
  • वर्षा – बरसात, मेह, बारिश, पावस, चौमास।
  • वक्ष – सीना, छाती, वक्षस्थल, उदरस्थला
  • वन – अरण्य, अटवी, कानन, विपिन।
  • वस्त्र – परिधान, पट, चीर, वसन, कपड़ा, पोशाक, अम्बर।
  • विकार – विकृति, दोष, बुराई, बिगाड़!
  • विष – गरल, माहुर, हलाहल, कालकूट, ज़हर।
  • विरुद – प्रशस्ति, कीर्ति, यशोगान, गुणगान।
  • विविध – नाना, प्रकीर्ण, विभिन्न।
  • विभोर – मस्त, मुग्ध, मग्न, लीना
  • विप्र – भूदेव, ब्राह्मण, महीसुर, पुरोहित, पण्डित।
  • विभा – प्रभा, आभा, कांति, शोभा।
  • विशारद – पण्डित, ज्ञानी, विशेषज्ञ, सुधी।
  • विलास – आनन्द, भोग, सन्तुष्टि, वासना।
  • व्यसन – लत, वान, टेक, आसक्ति।
  • वृक्ष – द्रुम, पादप, तरु, विटप।
  • विवाद – अनबन, झगड़ा, तकरार, बखेरा।
  • वंक – टेढ़ा, वक्र, कुटिल।
  • विपरीत – उलटा, प्रतिकूल, खिलाफ़, विरुद्ध।
  • व्रण – घाव, फोड़ा, ज़ख्म, नासूर।
  • वेश्या – गणिका, वारांगना, पतुरिया, रंडी, तवायफ़
  • वसन्त – मधुमास, ऋतुराज, माधव, कुसुमाकर, कामसखा, मधुऋतु।
  • विद्या – ज्ञान, शिक्षा, गुण, इल्म, सरस्वती।
  • विधि – शैली, तरीका, नियम, रीति, पद्धति, प्रणाली, चाल।
  • विमल – स्वच्छ, निर्मल, पवित्र, पावन, विशुद्ध।
  • विष्णु – नारायण, केशव, गोविन्द, माधव, जनार्दन, विशम्भर, मुकुन्द, लक्ष्मीपति, कमलापति।
  • शपथ – कसम, प्रतिज्ञा, सौगन्ध, हलफ़, सौं।
  • शहद – मधु, मकरंद, पुष्परस, पुष्पासव।
  • शब्द – ध्वनि, नाद, आश्व, घोष, रव, मुखर।
  • शरण – संश्रय, आश्रय, त्राण, रक्षा।
  • शिष्ट – शालीन, भद्र, संभ्रान्त, सौम्य, सज्जन, सभ्य।
  • शेर – सिंह, नाहर, केहरि, वनराज, केशरी, मृगेन्द, शार्दूल, व्याघ्र।
  • शिरा – नाड़ी, धमनी, नस।
  • शुभ – मंगल, कल्याणकारी, शुभंकर।
  • शिक्षा – नसीहत, सीख, तालीम, प्रशिक्षण, उपदेश, शिक्षण, ज्ञान।
  • श्वेत – सफ़ेद, धवल, शुक्ल, उजला, सिता
  • शंकर – शिव, उमापति, शम्भू, भोलेनाथ, त्रिपुरारि, महेश, देवाधिदेव, कैलाशपति, आशुतोष
  • शाश्वत – सर्वकालिक, अक्षय, सनातन, नित्य।
  • शिकारी – आखेटक, लुब्धक, बहेलिया, अहेरी, व्याध
  • श्मशान – मरघट, मसान, दाहस्थल।
  • षड्यंत्र – साज़िश, दुरभिसंधि, अभिसंधि, कुचक्र
  • सब – अखिल, सम्पूर्ण, सकल, सर्व, समस्त, समग्र, निखिल।
  • संकल्प – वृत, दृढ़ निश्चय, प्रतिज्ञा, प्रण।
  • संग्रह – संकलन, संचय, जमावा
  • संन्यासी – बैरागी, दंडी, विरत, परिव्राजका
  • सजग – सतर्क, चौकस, चौकन्ना, सावधान।
  • संहार – अन्त, नाश, समाप्ति, ध्वंसा
  • समसामयिक – समकालिक, समकालीन, समवयस्क, वर्तमान।
  • समीक्षा – विवेचना, मीमांसा, आलोचना, निरूपण।
  • समुद्र – नदीश, वारीश, रत्नाकर, उदधि, पारावार।
  • सखी – सहेली, सहचरी, सैरंध्री।
  • सज्जन – भद्र, साधु, पुंगव, सभ्य, कुलीन।
  • संसार – विश्व, दुनिया, जग, जगत्, इहलोक।
  • समाप्ति – इतिश्री, इति, अंत, समापन।
  • सार – रस, सत्त, निचोड़, सत्त्व।
  • स्तन – पयोधर, छाती, कुच, उरस, उरोज।
  • सुन्दरी – ललिता, सुनेत्रा, सुनयना, विलासिनी, कामिनी।
  • सूची – अनुक्रम, अनुक्रमणिका, तालिका, फेहरिस्त, सारणी।
  • स्वर्ण – सुवर्ण, सोना, कनक, हिरण्य, हेम।
  • स्वर्ग – सुरलोक, धुलोक, बैकुंठ, परलोक, दिव।
  • स्वच्छन्द – निरंकुश, स्वतन्त्र, निबंध।
  • स्वावलम्बन – आत्माश्रय, आत्मनिर्भरता, स्वाश्रय।
  • स्नेह – प्रेम, प्रीति, अनुराग, प्यार, मोहब्बत, इश्क।
  • समुद्र – सागर, रत्नाकर, पयोधि, नदीश, सिन्धु, जलधि, पारावार, वारीश, अर्णव, अब्धि।
  • सरस्वती – भारती, शारदा, वीणापाणि, गिरा, वाणी, महाश्वेता, हंसवाहिनी,ज्ञानदायिनी।
  • सूर्य – सूरज, दिनकर, दिवाकर, भास्कर, रवि, नारायण, सविता, कमलबन्धु, आदित्य, प्रभाकर,मार्तण्ड।
  • सम्पूर्ण – पूर्ण, समग्र, सारा, पूरा, मुकम्मल।
  • सर्प – भुजंग, अहि, विषधर, व्याल, फणी, उरग, साँप, नाग, अहि।
  • सुरपुर – सुलोक, स्वर्गलोक, हरिधाम, अमरपुर, देवराज्य, स्वर्ग।
  • सेठ – महाजन, सूदखोर, साहूकार, ब्याजजीवी, पूँजीपति, मालदार, धनवान, धनी, ताल्लुकदार।
  • संध्या – निशारंभ, दिनावसान, दिनांत, सायंकाल, गोधूलि, साँझ।
  • स्तुति – प्रार्थना, पूजा, आराधना, अर्चना।
  • हंस – मुक्तमुक, मराल, सरस्वतीवाहन।
  • हित – कल्याण, भलाई, भला, उपकार।
  • हक – अधिकार, स्वत्व, दावा, फर्ज़, उचित पक्ष।
  • हिमालय – हिमगिरि, हिमाद्रि, गिरिराज, शैलेन्द्र।
  • हनुमान् – पवनसुत, महावीर, आंजनेय, कपीश, बजरंगी, मारुतिनन्दन, बजरंग।
  • हाथ – कर, हस्त, पाणि, भुजा, बाहु, भुजाना
  • हाथी – गज, कुंजर, वितुण्ड, मतंग, नाग, द्विरद।
  • हार – पराजय, पराभव, शिकस्त, मात।
  • हार – माला, कंठहार, मोहनमाला, अंकमालिका।
  • हिम – तुषार, तुहिन, नीहार, बर्फी
  • हिरन – मृग, हरिण, कुरंग, सारंग।
  • होशियार – समझदार, पटु, चतुर, बुद्धिमान, विवेकशील।
  • क्षेत्र – प्रदेश, इलाका, भू–भाग, भूखण्ड।
  • क्षणभंगुर – अस्थिर, अनित्य, नश्वर, क्षणिका
  • क्षय – तपेदिक, यक्ष्मा, राजरोग।
  • क्षुब्ध – व्याकुल, विकल, उद्विग्न।
  • क्षमता – शक्ति, सामर्थ्य, बल, ताकत।
  • क्षीण – दुर्बल, कमज़ोर, बलहीन, कृश

    Hindi में Paryayvachi Shabd –

    Hindi Paryayvachi Shabd

    ____________________________________________

    ये भी पढ़ें:

    Complete Hindi Vyakaran व्याकरण :

    Bhasha भाषा,    Varn वर्ण and Varnmala वर्णमाला,   Shabd शब्द,   Vakya वाक्य ,   Sangya संज्ञा

    Sarvnam सर्वनाम,   Ling लिंग,   Vachan वचन ,   alankar अलंकार,   visheshan विशेषण ,

    pratyay प्रत्यय ,  Kriya क्रिया ,    Sandhi संधि,  karak कारक,    kal काल kaal  Vilom Shabd विलोम शब्द 

    _____________________________________________