Home गोयल बोले बैंक निजीकरण हर समस्या का हल नहीं

गोयल बोले बैंक निजीकरण हर समस्या का हल नहीं

  • by
Public Sector Banks

मुंबई में आयोजित इंडिया टुडे कॉन्क्लेव 2019 में शुक्रवार को केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल बैंकों के निजीकरण को जरूरी बताने के सवाल पर सामने आए और उन्होंने सरकारी बैंकों का जमकर बचाव किया ।

उन्होंने कहा कि सच तो यह है कि निजी बैंकों में भ्रष्टाचार के मामले ज्यादा सामने आए हैं और देश में आज जो इतना विकास हुआ है वह सार्वजनिक बैंकों की वजह से है ।

उन्होंने कहा, ‘हमें गर्व है कि आज सरकारी बैंकों की ही मदद से सीमांत क्षेत्र में बैंकिंग मिल रही है जहां निजी बैंक नहीं जाते इन्फ्रास्ट्रक्चर, पावर सेक्टर, मैन्युफैक्चरिंग का विकास सब सरकारी बैंकों की बदौलत हुआ है ।

गोयल ने कहा कि खुद मुझे सरकारी बैंकों का फायदा हुआ है । सरकारी बैंक जोखि‍म लेकर लोन दे रहे हैं, लेकिन निजी बैंक बहुत सुरक्षि‍त लोन देना चाहते हैं भारत को आगे बढ़ना है तो हमें पब्लिक सेक्टर बैंक को सपोर्ट करना होगा ।

वहीं टैक्स दरों में कमी की सराहना भी की गई भारतीय स्टेट बैंक के चेयरमैन रजनीश कुमार ने कहा कि कॉरपोरेट टैक्स में कटौती एक साहसिक कदम है इससे टैक्स चोरी करने वाली पैरलल इकोनॉमी भी कम होगी ।

कोटक महिंद्रा म्यूचुअल फंड के एमडी नीलेश शाह ने कहा कि हमारे देश में भूमि अधि‍ग्रहण कठिन है, श्रम कानून लचीले नहीं है, पूंजी हासिल करना मुश्किल है और बुनियादी ढांचा विकास पर्याप्त नहीं है इस पर काम करना होगा ।

सार्व‍जनिक बैंकों पर पड़ी चोट से केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने एक तरह से नाराजगी दिखाते हुए कहा कि सच तो यह है कि सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार और स्कैंडल केस निजी बैंकों, कंपनियों, एनबीएफसी से सामने आए हैं ।

यह सरकार इस सिस्टम की सफाई करना चाहती है गोयल ने कहा, ‘निजीकरण हर समस्या का हल नहीं है पब्लिक सेक्टर बैंक की वजह से आज देश में इतना विकास हुआ है युवा कारोबारियों को निजी बैंक लोन नहीं देते, यह काम सरकारी बैंक करते हैं, सरकारी बैंकों की भूमिका की सराहना करनी होगी ।