Home महाराष्ट्र में ठाकरे सरकार

महाराष्ट्र में ठाकरे सरकार

  • by
Share with Friends

महाराष्ट्र को मिला मुख्यमंत्री

बड़ी सियासी उठापठक के बाद आखिर महाराष्ट्र में फिर से नई सरकार बन ही गई । इस बार बाजी शिवसेना ने मारी है ।

महाराष्ट्र में 19वें मुख्यमंत्री के रूप में उद्धव ठाकरे ने गुरुवार शाम को शपथ ली ।

आज शिवाजी पार्क स्टेडियम में  मराठी भाषा में उद्धव ठाकरे ने सीएम पद की शपथ ली ।

ठाकरे परिवार से पहली बार कोई महाराष्ट्र के सीएम की कुर्सी पर बैठा है ।

59 साल के उद्धव ठाकरे कांग्रेस और एनसीपी के साथ मिलकर महाराष्ट्र को चलाएंगे , ये तीनों दलों की मिलीजुली सरकार होगी ।

उद्धव ठाकरे के साथ-साथ तीनों पार्टियों के छह नेताओं ने भी कैबिनेट मंत्री के रूप में शपथ ली ।

नए बनाए गए मंत्री

शिवसेना से एकनाथ शिंदे और सुभाष देसाई, NCP से जयंत पाटिल और छगन भुजबल, कांग्रेस से बालासाहेब थोराट और नितिन राउत कैबिनेट मंत्री बनाए गए हैं ।

जयंत राजाराम पाटिल इस्लामपुर वालवा विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं। वह पृथ्वीराज चव्हाण सरकार में ग्रामीण विकास मंत्री रहे हैं।

इससे पहले वह वित्त मंत्री और गृह मंत्री भी रहे हैं।

छगन भुजबल एनसीपी के दिग्गज नेता हैं। भुजबल महाराष्ट्र के पूर्व उप मुख्यमंत्री रह चुके हैं।

बाला साहेब थोराट कांग्रेस के दिग्गज नेता 8 बार विधायक रह चुके हैं और वर्तमान में महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस समिति के प्रमुख हैं ।

सुभाष देसाई शिवसेना के वरिष्ठ नेता 1990, 2004 और 2009 में विधायक रह चुके हैं । 2014 में महाराष्ट्र के उद्योग मंत्री संभाल चुके हैं ।

एकनाथ शिंदे शिवसेना के विधायक दल के नेता हैं । जिन्हें अजीत पवार की जगह विधायक दल का नेता बनाया है ।

दलित नेता नितिन राउत को भी मंत्री बनाया गया है । नितिन राउत महाराष्ट्र सरकार में पहले भी कैबिनेट मंत्री रह चुके हैं ।

सरकार बनते ही काम शुरू

शपथ ग्रहण के बाद उद्धव ठाकरे सिद्धि विनायक मंदिर में पूजा करने पहुँचे, उसके बाद उन्होंने सहयाद्री गेस्ट हाउस में अपनी पहली कैबिनेट बैठक ली ।

कैबिनेट मीटिंग से बाहर आने के बाद पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा कि मैं राज्य के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि हम एक अच्छी सरकार देंगे ।

पहली कैबिनेट बैठक में छत्रपति शिवाजी महाराज की राजधानी रायगढ़ किला के संरक्षण के लिए 20 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.