Home IMF अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष

IMF अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष

  • by
Share with Friends

अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (International Monetary Fund)  इंटरनेशनल मॉनिटरी फंड जिसे शार्ट रूप में IMF आईएमएफ कहते हैं ।

यह एक अंतर्राष्ट्रीय संस्था है, आईएमएफ की स्थापना 1945 में की गई थी। इसका मुख्यालय वॉशिंगटन डी सी संयुक्त राज्य में है ।

27 दिसंबर, 1945 को 29 देशों के समझौते पर हस्ताक्षर करने के बाद आईएमएफ संस्था की स्थापना हुई।
आईएमएफ के कुल 186 सदस्य देश हैं।

कोई भी देश आईएमएफ की सदस्यता के लिए आवेदन कर सकता है। यह आवेदन आईएमएफ के कार्यपालक बोर्ड द्वारा विचाराधीन भेजी जाती है। इसके बाद कार्यकारी बोर्ड, बोर्ड ऑफ गर्वनेस को उसकी संस्तुति के लिए भेजता है। वहां स्वीकृत होने पर सदस्यता मिल जाती है।

आईएमएफ का उद्देश्य आर्थिक स्थिरता सुरक्षित करना, आर्थिक प्रगति को बढ़ावा देना, गरीबी कम करना, रोजगार को बढ़ावा देना और अंतर्राष्ट्रीय व्यापार सुविधाजनक बनाना है।

यह संस्था (IMF) अपने सदस्य देशों की वैश्विक आर्थिक स्थिति पर नज़र रखने का काम करती है तथा यह अपने सदस्य देशों को आर्थिक और तकनीकी सहायता प्रदान करती है।

यह संगठन अन्तर्राष्ट्रीय विनिमय दरों को स्थिर रखने के साथ-साथ विकास को सुगम करने में सहायता करता है।

आईएमएफ (IMF) की विशेष मुद्रा एसडीआर (स्पेशल ड्राइंग राइट्स) है। अंतर्राष्ट्रीय व्यापार और वित्त के लिए कुछ देशों की मुद्रा का इस्तेमाल किया जाता है, इसे एसडीआर कहते हैं। एसडीआर में यूरो, पाउंड, येन और डॉलर हैं।