Home गुर्दे की पथरी में बरतें सावधानी

गुर्दे की पथरी में बरतें सावधानी

  • by

किडनी की पथरी में कैसे रखें खयाल

आजकल के खानपान और कम मेहनत वाली लाइफस्टाइल के चलते बहुत से लोग किडनी स्टोन की बीमारी से जूझ रहे हैं ।

किडनी की पथरी में शुरू में  कोई परेशानी नहीं होती है लेकिन जब पथरी मूत्र का रास्ता रोकने लगती है तब  इसका दर्द उठता है जो बहुत ही असहनीय होता है ।

क्या होती है पथरी 

दरअसल पथरी बोले जाने वाली चीज वास्तव में पथरी नहीं होती । आप जो भी खाते हैं उसमें शामिल चिकनाई कैल्शियम और आयरन एक जगह एकत्रित होता है ।

क्योंकि किडनी का कार्य रक्तशोधन का होता है , तो यूरिया को मूत्र के रास्ते बाहर निकालती है । 

लेकिन कैल्शियम और आयरन की मात्रा अधिक होने पर यह मूत्र के रास्ते मे जम जाता है जिसे पथरी का नाम देते हैं । जब यह बड़ा होकर ब्लॉकेज बन मूत्र के रास्ते को रोकने लगता है तो भयंकर दर्द होता है ।


Kidney stones are one of the most painful medical conditions. The causes of kidney stones vary according to the type of stone.

नमक और शरीर के दूसरे खनिज जब एक-दूसरे के संपर्क में आते हैं तो पथरी बनने लगती है । स्टोन कई तरह का होता है लेकिन कैल्श‍ियम से बना स्टोन सबसे सामान्य होता है ।  इसका कोई निर्धारित आकार नहीं होता है । जब केल्सियम या अन्य खनिज एकत्रित होकर एक जगह जम जाते हैं तो स्टोन कहलाते हैं ।

छोटे स्टोन ज्यादातर दवा से ही यूरीन के साथ बाहर निकल जाते हैं लेकिन कई बार इनका आकार हैरान कर देने वाला बड़ा होता है, ऐसी स्थिति में कई बार डॉक्टर आपरेशन करते हैं ।


Calcium stones are the most common. They’re often made of calcium oxalate. 

किडनी पथरी की स्थिति में निम्न परहेज करना चाहिए :

1. किडनी स्टोन है तो अपने भोजन में प्रोटीन की मात्रा को कम करें । प्रोटीन  मछली और मांस का सेवन से अधिक बनता है ।

2 . जंक फूड और नमक के सेवन को कम करना चाहिए । भोजन में सोडियम की बहुत अधिक मात्रा खतरनाक साबित हो सकता है ।

3. ऐसी चीजें कम लें जिनमें ऑक्सलेट हो ।  पालक, साबुत अनाज आदि में ऑक्सलेट पर्याप्त मात्रा में पाया जाता है, इन्हें खाने से परहेज करें ।

4. विटामिन सी का कम इस्तेमाल करने की जरूरत है । ये अधिकतर खट्टी चीजों में पाया जाता है ।

5. बीज युक्त सब्जी व फलों का सेवन न करें । जैसे टमाटर  बैंगन , अमरूद आदि ।

6. अधिक बसा वाला या देशी भाषा मे कहें तो बादी भोजन जैसे चावल, उड़द आदि अधिक सेवन करने से स्टोन की समस्या बढ़ जाती है।

7. कॉफी और कोल्डड्रिंक का परहेज करें तो बेहतर रहेगा । कोल्ड ड्रिंक में फॉस्फोरिक एसिड होता है जो स्टोन के खतरे को और बढ़ाता है ।

किडनी स्टोन में इन चीजों का करें सेवन :

1. अधिक से अधिक मात्रा में पानी का सेवन करना चाहिए । पानी के अधिक सेवन से छोटी मोटी स्टोन मूत्र के साथ बाहर निकल जाती हैं ।

2. हालांकि अल्कोहल स्वास्थ्य के और खासकर किडनी के लिए हनिकारक है फिर भी कम मात्रा में बीयर पीने की भी सलाह दी जाती है ।

3. सौंफ खाने से  भी गुर्दे की पथरी में फायदा होता है । सौंफ, मिश्री खाने से फायदा मिलता है ।

4. चौलाई की सब्‍जी भी गुर्दे की पथरी से निजात दिलाने में उपयोगी समझी जाती  है ।


5. अंगूर खाने से भी पथरी कम होती है । अंगूर में पोटेशियम  और पानी भरपूर मात्रा में होता है।  किड्नी स्‍टोन के उपचार के लिए अच्‍छा माना जाता है। 

6. किड्नी स्‍टोन के मरीजों के लिए करेला खाना अच्छा है । करेले में मैग्‍नीशियम और फॉस्‍फोरस नामक तत्‍व होते हैं, जो पथरी को बनने से रोकते हैं।

7.  केले का सेवन करना चाहिए। केले में विटामिन बी-6 होता है। विटामिन बी-6 ऑक्जेलेट क्रिस्टल को बनने से रोकता और तोड़ता है। केला किड्नी स्‍टोन के उपचार में बहुत फायदेमंद है। 
8.  नींबू का रस सेवन करने से किड्नी स्‍टोन में फायदा होता है।

9. प्‍याज में स्‍टोन नाशक तत्‍व होते है इसका प्रयोग कर आप किडनी स्‍टोन से निजात पा सकते है ।

10. अजवाइन एक  यूरीन ऐक्ट्यूऐटर है और किडनी के लिए टॉनिक के रूप में काम करता है। किडनी में स्‍टोन के गठन को रोकने के लिए अजवाइन का इस्‍तेमाल मसाले में करते हैं ।

Kidneys are essential to having a healthy body. They are mainly responsible for filtering waste products, excess water, and other impurities out of the blood. These toxins are stored in the bladder and then removed during urination. 

Strive for 12 glasses of water per day instead of the usual 8.

You canadd freshly squeezed lemons to your water .

Pomegranate juice has been used for centuries to improve overall kidney function. 

होमोओपैथी में डॉक्टर ज्यादातर clear stone व Berbaries नामक दवाओं को पानी में डालकर सेवन के लिए देते हैं ।

आयुर्वेद में neeri नामक दवा भी पथरी के लिए बहुत प्रचलित है ।