Home वर्ल्ड फोटोग्राफी डे (World Photography Day) कब क्यों कैसे

वर्ल्ड फोटोग्राफी डे (World Photography Day) कब क्यों कैसे

  • by
Share with Friends

World Photography Day in hindi

वर्ल्ड फोटोग्राफी डे (World Photography Day) कब क्यों कैसे

World Photography Day: हर वर्ष 19 अगस्‍त को क्‍यों मनाया जाता है वर्ल्ड फोटोग्राफी डे?

आज फोटोग्राफी कला, फिल्म और वीडियो के साथ-साथ विज्ञान, व्यापार, मनोरंजन जगत इत्यादि क्षेत्र में भी की जा रही है।

हर साल 19 अगस्त (19 August)  को वर्ल्ड फोटोग्राफी डे (World Photography Day) बड़े ही उत्साह के साथ मनाया जाता है  यह दिन उन लोगों के लिए खास महत्व रखता है जो किसी भी खूबसूरत चीज या नजारे को अपने कैमरे में कैद कर लेना पसंद करते हैं ।

वर्ल्ड फोटोग्राफी डे (Photography Day) उन सभी फोटोग्राफर्स को समर्पित है जिन्होंने अपनी कला से दुनिया की खूबसूरती को कैमरे में कैद किया है दुनिया में ऐसे कई फोटोग्राफर्स है जिन्होंने इस कला को अपना पेशा बना लिया है वो अपने कैमरे से बेहतरीन तस्वीरें खींच कर लाखों-करोड़ों रुपए कमा रहे हैं ।

फोटोग्राफी और कुछ नहीं बल्कि लोगों के लिए अपनी क्रिएटिविटी दिखाने का एक मौका है जो लोग अपनी बात शब्दों के जरिए बयां नहीं कर पाते उनके लिए फोटोग्राफी कई बार बहुत अच्छा विकल्प बन जाता है।

वर्ल्ड फोटोग्राफी डे का इतिहास (World Photography Day History)

क्या आप जानते हैं कि फोटोग्राफी (Photography) की शुरुआत किसने की थी?

इतिहासकारों के मुताबिक कई साल पहले यानी 9 जनवरी, 1839 को दुनिया की सबसे पहली फोटोग्राफी टेक्निक का आविष्कार हुआ था। इस टेक्निक का नाम था डॉगोरोटाइप जिसे जोसेफ नाइसफोर और लुइस डॉगेर नाम के 2 वैज्ञानिकों ने डॉगोरोटाइप प्रक्रिया से अविष्कार किया था।

डॉगोरोटाइप टेक्निक फोटोग्राफी की पहली प्रक्रिया थी, इस टेक्निक के आविष्कार का ऐलान फ्रांस सरकार ने 19 अगस्त, 1839 में किया। इसी की याद में वर्ल्ड फोटोग्राफी डे World Photography Day हर साल 19 अगस्त को मनाया जाता है।

आखिर क्यों 19 अगस्त को वर्ल्ड फोटोग्राफी डे (World Photography Day) मनाया जाता है? 

आधिकारिक तौर पर इस दिन की शुरुआत 2010 में हुई थी। ऑस्ट्रेलिया के एक फोटोग्राफर ने अपने साथी फोटोग्राफरों के साथ मिलकर इस दिन इकट्ठा होने और दुनियाभर में इसका प्रचार प्रसार करने का फैसला किया।

साल 2010 में ऑस्ट्रलिया के इस फोटोग्राफर  ने वर्ल्ड फोटोग्राफी डे (World Photography Day) के बारे में दुनिया भर में जागरुकता फैलानी शुरू की। अपने  साथी फोटोग्राफरों के साथ मिलकर उनकी तस्वीरें ऑनलाइन गैलरी के जरिए लोगों के सामने पेश कीं। इस ऑनलाइन गैलरी को लोगों ने खूब पसंद किया जिसके बाद से इसका ट्रेंड बन गया और हर साल फोटोग्राफी डे (Photography Day) के दिन ऐसी ही ऑनलाइन गैलरी बनने लगी।

गैलरी की इन तस्वीरों को लोगों ने खूब सराहा। इसके बाद से फोटोग्राफरों का डिजिटल प्लेटफॉर्म के जरिए अपनी कला का प्रदर्शन करने का यह सिलसिला शुरू हो गया जो आज भी जारी है।